महीनों बाद कमरे में अकेले शमी का इंतजार कर रही थी हसीन जहां लेकिन हुआ कुछ ऐसा इधर-उधर भागने लगी

Sponsored Ads
NEW DELHI : महीनों की लड़ाई के बाद आखिरकार कल मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी के बीच बंद कमरे में मुलाकात होनी थी लेकिन वहां कुछ ऐसा हुआ कि हसीन जहां परेशान हो गई।

दरअसल शमी-हसीन की सुलह होने को निर्धारित तारीख 14 मई निकल गई, लेकिन शमी अमरोहा नहीं पहुंचे। हसीन जहां उनका इंतजार करते- करते थक गई इसके बाद वो पंचायत के सदस्यों के यहां भाग दौड़ करने लगी। दोनों में सुलह कराने का बीड़ा उठाने का दम भर रहे पंचायत के लोग शमी का इंतजार अभी कर रहे हैं।

अमरोहा जनपद के कस्बा जोया में शमीम अहमद के आवास पर शमी और हसीन की पंचायत होने पर लोगों की निगाहें रही। देर शाम तक पंचायत नहीं हुआ। इसका कारण शमी का न पहुंचना बताया गया है। पंचायत से जुड़े लोग शमी के न आने का कारण उसकी व्यस्तता बता रहे हैं और उनकी ओर से दावा किया जा रहा है कि शमी समय निकालकर पहुंचेंगे।

Sponsored Ads

दरअसल पिछले पांच दिनों तक शमीम अहमद के आवास पर ठहरी हसीन जहां को लेकर बिरादरी के कुछ लोगों की एक पंचायत हुई थी। पंचायत से जुड़े लोगों ने दावा किया था कि शमी मामले में सुलह करने को तैयार है और शमी 14 मई को पहुंचेगा। लेकिन शमी नहीं आया और हसीन जहां भी कोलकाता पहुंचने का दावा कर रही है।

निर्धारित समय पर पंचायत में नहीं पहुंच पाए शमी और हसीन की सुलह को लेकर पंचायत के लोग उम्मीद लगाए हैं। पंचायत से जुड़े लोगों की माने तो शमी और हसीन में सहमति की बात चल रही है और पंचायत अपना पूरा प्रयास दोनों के उजड़े घर को बसाने में करेगी।

पंचायत के लोगों के सुझाव पर पंचायत और हसीन जहां ने किसी भी बयान न देने का निर्णय लिया गया है। इसके लिये सभी ने मीडिया से भी दूरी बनाना तय किया है।

हसीन जहां ने कहा- पंचायत क्या निर्णय लेगी और शमी की पंचायत के लोगों से क्या बात हुई है, इस बारे में मुझे नहीं बताया गया है। अगर कोई बात होगी तो पंचायत के लोगों से बात की जाएगी। फिलहाल मै कोई बयान नहीं दे रही हूं।

Sponsored Ads

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *