बस एक वॉयस कॉल कीजिए, अकाउंट में ट्रांसफर हो जाएंगे रुपये, जानिए कैसे…

Sponsored Ads

भागलपुर [गौरव कुमार]। अब आप वायस कॉल (मोबाइल कॉल) करके दूसरों के अकाउंट में रुपये ट्रांसफर कर सकते हैं। ग्राहकों की सुविधा के लिए भारतीय डाक विभाग ने यह पहल की है। जून से उपभोक्ताओं को यह सुविधा मिलने लगेगी। इसके लिए इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आइपीपीबी) में खाता खुलवाना होगा। जिसके बाद खाताधारी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से फोन कर किसी को भी चंद सेकेंड में मनी ट्रांसफर कर सकेंगे।

नई व्यवस्था से एनपीए और बिचौलियों पर पूरी तरह से लगाम लग जाएगा। इस सुविधा का लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने के लिए डाकियों को मोबाइल उपलब्ध कराया गया है। वे घर-घर जाकर ग्राहकों का खाता खोलेंगे।

सभी डाकघरों में खुलेगा खाता

अधिकारियों ने बताया कि भारतीय डाक अपने सभी प्रधान डाकघर, उप डाकघर और सहायक डाकघरों में आइपीपीबी के माध्यम से ग्राहकों का खाता खोलेगी। ग्राहकों को खाता खोलने के लिए अपना आधार नंबर और फिंगर प्रिंट का निशान देना होगा।

Sponsored Ads

आइपीपीबी खाते में अधिकतम एक लाख रुपये कर सकते हैं जमा : आइपीपीबी खाते में ग्राहक अधिकतम एक लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। इससे ज्यादा राशि जमा होने पर वह खुद-ब-खुद बचत बैंक खाते में चली जाएगी।

यही नहीं, जब ग्राहक एक लाख रुपये में जितनी  राशि निकासी करेगा उतनी राशि खुद-ब-खुद बचत खाते से आइपीपीबी खाते में ट्रांसफर हो जाएगी। ग्राहक अपनी इच्छानुसार अधिकतम राशि की सीमा से कम पर भी अपनी राशि फिक्स कर सकते हैं।

कर्ज दिलाने में बनेगा गारंटर

भारतीय डाक अपने ग्राहकों को बैंकों से कर्ज दिलवाने में गारंटर की भी भूमिका निभाएगा। इससे जरूरतमंदों को बैंक से लोन की राशि सीधे उनके खाते में आ जाएगी। इससे आम आदमी बिचौलिये से बच सकेंगे साथ ही एनपीए पर पूरी तरह रोक लगेगी।

भागलपुर के प्रधान डाकघर के डाकपाल ने कहा-

भारतीय डाक अपने ग्राहकों को वायस कॉलिंग से मनी ट्रांसफर, घर बैठे खाता खोलने और बैंकों से लोन दिलवाने की सुविधा देने जा रहा है। इससे आम लोग बिचौलिये से बचेंगे और फर्जीवाड़ा पर रोक लगेगा।

– सुनील कुमार सुमन, डाकपाल, प्रधान डाकघर, भागलपुर

Sponsored Ads

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *