नौकरी चले जाने पर भी नहीं होगी कोई चिंता, सरकार की ये स्कीम आपकी करेगी मदद

By | August 14, 2018
नौकरी चले जाने पर भी नहीं होगी कोई चिंता, सरकार की ये स्कीम आपकी करेगी मदद

नई दिल्ली। मोदी सरकार अपके लिए एक ऐसा तोहफा लेकर आने वाली है जिसके बारे में सुनकर आप खुशी से झूम उठेगें। दरअसल जो लोग प्राइवेट सेक्टर में काम करते है उनकी नौकरी छूट जाने का खतरा हमेशा बना रहता है। ऐसे में लोगों को तरह – तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। लोगों के मन में कई तरह के सवाल पैदा हो जाते हैं। लोगों घर खर्च और बच्चों की फीस को लेकर तनवा में जीने लगते हैं। इसी को देखते हुए सरकार एक नई स्कीम लेकर आई है। जिसके तहत पचास करोड़ लोगों का सरकार ‘विश्वकर्मा खाता’ खुलवाएगी।

खुलेगा विश्वकर्मा अकाउंट

विश्वकर्मा अकाउंट खुलवाने से आपको कई फायदे होने वाले है। इसका सबसे ज्यादा फायदा तो आपको तब होगा जब आपके पास नौकरी नहीं होगी। इसके बाद अगर आपके पास नौकरी नहीं है तो आपको परेशान होने की कोई जरूरत नहीं हैं। आपको खर्च और बच्चों की फीस को लेकर तनवा लेने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी। दरअसल विश्वकर्मा अकाउंट एक ऐसा अकाउंट होगा, जिसके तहत अगर किसी की नौकरी चली जाती है तो परिवार का खर्च चलाने के लिए इस खाते से मदद ली जा सकेगी। यह एक सामाजिक सुरक्षा खाता होगा, जिसमें कर्मचारी को पीएफ पेंशन और ग्रुप मेडिकल इन्श्योरेंस के अलावा इसमें बेरोजगारी फायदे मिलेंगे।

Sponsored Ads

50 करोड़ विश्वकर्मा खाता खोलेगी सरकार

सरकार लगभग 50 करोड़ विश्वकर्मा खाता खोलने के बारे में सोच रही हैं। ऐसे में ये खाते खोलने की जिम्मेदारी कंपनी की होगी। कंपनी खुद अपने कर्मचारी का ये खाता खुलवायेगी।अगर कंपनी या संस्थान कर्मचारी का खाता तय अवधि में नहीं खुलवाती हैं तो कर्मचारी खुद से अपना खाता खुलवा सकेगा। बता दें की विश्वकर्मा अकाउंट स्कीम बिजनेस करने वालों के लिए भी होगों। जो लोग खुद का बिजनेस चलाते होगों लो लोग भी ये अकाउंटखुद खुलवा सकेगें। इतना ही नहीं ये अगर आपका ट्रांसफर होता है तो आपका विश्वकर्मा अकाउंट भी ट्रांसफर हो जाएगा।

कर्मचारी को अलग अलग वर्गों में रखा जाएगा

विश्वकर्मा अकाउंट खुलवाने के लिए कर्मचारी को अलग अलग वर्गों में बांटा जाएगा। इसके अलावा भी इसमें अंशदान करना भी रखा जाएंगा। जिसकी आर्थिक स्थिति ठीक होगी, वो विश्वकर्मा अकाउंट में अंशदान करेंगे। उन्हें फायदा लेने के लिए विश्वकर्मा खाते में अंशदान करना होगा।इसमें से जो कमजोर सामाजिक, आर्थिक आधार वाले कर्मचारी होंगे, उनको अपने विश्वकर्मा खाते में कोई अंशदान नहीं करना होगा। उनको पीएफ, पेशन सहित दूसरे सामाजिक सुरक्षा से जुड़े फायदे के लिए पूरा अंशदान सरकार करेगी।

Sponsored Ads

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *