Post Office की ये सुविधाएं अब ऑनलाइन मिलेंगी, पैसे आसानी से कर सकेंगे ट्रांसफर

Sponsored Ads

पोस्ट ऑफिस जल्द ही डिजिटल बैंकिंग सर्विस देने लगेगा. इससे पोस्‍ट ऑफिस के 34 करोड़ बचत खाता धारकों को फायदा होगा. दरअसल, सरकार की तरफ से इंडिया पोस्‍ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) के साथ इन अकाउंट्स को लिंक करने की मंजूरी दिए जाने के बाद से बचत खाताधारकों को डिजिटल बैंकिंग मिलने का रास्‍ता साफ हो गया. अगली स्लाइड में जानें इस सुविधा से किसको और क्या होगा फायदा-

इससे पोस्‍ट ऑफिस के खाताधारक अपने अकांउट से किसी भी बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने में सक्षम हो जाएंगे. पोस्ट ऑफिस में 17 करोड़ पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स बैंक अकाउंट्स हैं. बाकी बचत खातों में मंथली इनकम स्‍कीम, रेकरिंग डिपॉजिट आदि शामिल हैं.

Sponsored Ads
देश में बनेगा सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क: सरकार के इस कदम से देश में सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क बनकर तैयार हो जाएगा. इंडिया पोस्‍ट की योजना के तहत सभी 1.55 लाख पोस्‍ट ऑफिस शाखाओं को आईपीपीबी से लिंक करना है. इंडिया पोस्‍ट कोर बैंकिंग सर्विस शुरू कर चुका है, लेकिन इसके तहत मनी ट्रांसफर की सुविधा पोस्‍ट ऑफिस सेविंग्‍स बैंक (पीओएसबी) अकाउंट्स के बीच ही मिलती है.

NEFT, RTGs की मिलेगी सुविधा: आईपीपीबी को रिजर्व बैंक नियंत्रित करता है और पोस्‍ट ऑफिस की बैंकिंग सेवाएं वित्‍त मंत्रालय के अधीन हैं. आईपीपीबी कस्‍टमर एफईएफटी, आरटीजीएस और मनी ट्रांसफर की दूसरी सर्विसेस का इस्‍तेमाल कर सकते हैं, जो कि बैंक के कस्‍टमर्स को मिलती हैं.

कस्‍टमर चाहे तो ही मिलेगी सर्विस: पोस्‍ट ऑफिस के बचत खाताधारकों को डिजिटल बैंकिंग सर्विस उनकी मर्जी के अनुसार ही मिलेगी. यानी सर्विस पूरी तरह वैकल्पिक होगी. यदि खाताधारक यह सर्विस लेना चाहता है तो उसे अकाउंट को आईपीपीबी अकाउंट से लिंक किया जाएगा.
Sponsored Ads

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *